शाहपुर विधानसभा क्षेत्र से बड़ी खबर मिल रही है, जहां निर्दलीय उम्मीदवार स्वर्गीय विशेश्वर ओझा की पत्नी शोभा देवी के अपहरण के प्रयास की सूचना है। घटना बिहिया थाना क्षेत्र के अमराई नवादा गांव के समीप एक विद्यालय में घटी, जहां शोभा देवी समर्थकों के साथ विश्राम कर रही थी। तभी एक दलीय प्रत्याशी समर्थक पूरे दल बल के साथ पहुंचे और उन्हें जबरन अपनी गाड़ी में बैठा लिया साथ ही उन पर नामांकन वापस लेने के लिए दबाव बनाने का प्रयास किया गया। विद्यालय में उनके साथ रहने वाले लोगों के साथ हाथापाई भी हुई। उनके समर्थकों ने उनका अपहरण करने का आरोप लगाया है।

स्वर्गीय विशेश्वर ओझा की पत्नी और राकेश ओझा की माता है शोभा देवी

बताया जा रहा है कि सोमवार को अमराई नवादा गांव के समीप एक प्राइवेट स्कूल में शोभा देवी विश्राम कर रही थी उसी दौरान एक प्रत्याशी के समर्थक वहां पहुंचे और उन्हें अपनी गाड़ी में बैठा कर ले जाने लगे। तभी वहां के लोगों ने अपने लोगों को फोन कर कर दिया। जिसके बाद समीप के गांव में प्रचार कर रहे उनके पुत्र राकेश विशेश्वर ओझा अपने समर्थकों के साथ पहुंचे और काफी नोकझोंक के बाद अपहरणकर्ताओं से उनको छुड़ा पाए । शोभा देवी के पुत्र राकेश ओझा ने कहा है कि कुछ लोग उनके माता के नामांकन व जनता के व्यापक समर्थन से बौखला गए हैं। यह सोची समझी रणनीति के तहत सत्ताधारी लोगों के इशारे पर कराया जा रहा है लेकिन, मुझे अपने सहयोगियों और ईश्वर पर पूरा भरोसा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *