अघोरा बालू घाट से अपनी जेसीबी की बैट्री बदल कर घर वापस आ रहे तरारी थाना क्षेत्र के वरसी निवासी बाप-बेटे की मौत रोड एक्सिडेंट में हो गई।बाप बेटे की एक साथ मौत होने की जानकारी मिलते हीं मृतक के परिजनों सहित वरसी गांव में कोहराम मच गया।
घटना के संबंध में बताया जाता है कि वुधवार को तरारी थानाक्षेत्र के वरसी निवासी पूर्व फुटबॉल प्लेयर व जेसीबी संचालक सत्येंद्र सिंह यादव अपने 30 वर्षीय पुत्र प्रभाकर कुमार उर्फ पिंटू सिंह के साथ बाईक से औरंगाबाद जिले के अघोरा बालू घाट में चल रही अपनी जेसीबी की बैट्री बदलने गये थे।बैट्री बदलने के बाद बाप बेटे वापस घर आ रहे थे। तभी रास्ते में दाउदनगर सोन नदी पुल के पर अज्ञात वाहन की टक्कर से बाईक सवार बाप बेटे की मौत मौके पर ही हो गई।मृतकों की मोबाइल से दाउदनगर पुलिस ने परिजनों को घटना की सूचना दी गई। बाप बेटे की मौत की जानकारी होते हीं सत्येन्द्र सिंह की पत्नी इंदू देवी और प्रभाकर कुमार की पत्नी प्रियंका देवी दोनो सास बहू दहाड मार कर रोने लगी।सास बहू की रोना सून आसपास ग्रामीण भी उनके घर पहुंचे।घटना की जानकारी होते हीं उपस्थित सभी की हाथपांव फूल गये और आननफानन में कई ग्रमीण घटना स्थल के लिए रवाना हुए।घटना स्टल पर पहुंचे मृतक के रिस्तेदारों और ग्रामीणों को दाउनगर पुलिस गुरुवार को पोस्टमार्टम के उपरांत शव को सौंप दिया गया।

बाप बेटे का शव वरसी आते हीं सास बहू हुई बेहोश

वरसी निवासी फुटबॉल प्लेयर 55 वर्षीय सत्येन्द्र सिंह यादव और 32 वर्षीय पुत्र प्रभाकर कुमार उर्फ पिंटू का शव पैतृक गांव में आते हीं मृतक सत्येन्द्र सिंह की पत्नी इंदू देवी और मृतक बेटा प्रभाकर की पत्नी प्रियंका देवी बेहोश हो जमीन पर गीर पडी।जिन्हें ग्रामीण डाक्टर से इलाज कराया गया।होश में आते हीं पति और पुत्र की एक साथ मौत से सदमे में पडी इंदू देवी दहाड मार कर रोते हुए बार बार कह उठती की” बैटरीया बदले ना गईल रहतन जा त काल के गाल से बच जईतन जा।”
प्रभाकर की शादी तीन वर्ष पूर्व हीं श्रीकंठपुर की प्रियंका के साथ हुई थी।जिनसे एक मात्र बच्चा 2 वर्षीय आदित्य है।दिनभर दादा और पिता की गोद में घुमने वाला आदित्य घटना से अंजान संतवना देने वालों का मुंह टूक टूक देख रहा था।जिसे देख उपस्थित सभी का कलेजा फटे जा रहा था।

छोटे पुत्र सोनू को गांव पहूंचने की इंतजार में रखा गया बाप बेटे का शव

अलग अलग घर बसा चुके अपने सात भाईयों में सबसे छोटा व चर्चित फुटबॉल खिलाडी मृतक सत्येन्द्र सिंह के दो पुत्रों में से बडा बेटा प्रभाकर कुमार की मौत साथ में हो गई है।जबकि छोटा पुत्र सोनू कुमार दिल्ली में रिलायंस कम्पनी प्राईवेट नौकरी करता है।गांव पर रह रहे पिता और बडे भाई की एक साथ मौत होने की जानकारी मिलते हीं सोनू नीजी वाहन से गांव के लिए दिल्ली से चल चुका है। सोनू की अभी शादी नहीं हुई है।

1-दसाड मार कर रोते मृतकों के परिजन
3-दादा और पिता के मृत्यु से अंजान आदित्य
4-मृतक सत्येन्द्र सिंह
5- मृतक पुत्र प्रभाकर कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *