जदयू के मीडिया सेल भोजपुर जिला संयोजक तिवारी ने कहा कि इस बार के बजट में कमजोर वर्गों को आर्थिक रूप से सुदृढ करने की कई योजनाओं का जिक्र हुआ है। बजट में महिलाओं को और सशक्त बनाने हेतु ब्याज मुक्त ऋण देना और महिला उधमिता के लिए विशेष योजना का प्रवाधान किया गया है । वही मछलीपालन को बढ़ावा देने हेतु भी योजना है। वही पशुओं के चिकित्सा ब्यवस्था को सुदृढ करते हुए कॉल सेंटर एवं गोवंश संस्थान की स्थापना का भी बजट में जिक्र है। इस तरह बिहार सरकार ने सभी वर्गों को ख्याल रखते हुए बजट बनाया है जिसकी प्रशंसा सभी जगह हो रही है।

रतिकांत तिवारी ने कहा कि न्याय के साथ विकास की पूर्णतः झलक इस बार के बजट में है। गाँव से लेकर शहर तक के विकास की खाका बजट में कई गई है। गाँवो में कचरा प्रबंधन की ब्यवस्था पहली बार बिहार में की जा रही है। वही सभी शहरों में शवदाह गृह बनाने का बजट में प्रवाधान किया गया है। साथ ही वृद्धजनों के लिए  आश्रय स्थल बनाने की बात कही गई है। जिससे वैसे वृद्धजन जिन्हें किसी कारणवश घर से बाहर रहना पड़ता था उन्हें काफी सहूलियत होगी। 

श्री तिवारी ने भी बिहार  बजट को विकास बजट बताया है। कहा कि बजट में इस बार स्वास्थ्य और शिक्षा पर सबसे ज्यादा फोकस किया गया है। वितीय वर्ष 2021–22 के बजट से आम जनता को काफी राहत मिलेगी । वही युवाओं को रोजगार के भी अवसर भी बढ़ेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *