• टीकाकरण द्वारा करें स्वयं एवं परिवार को सुरक्षित
• कोविड अनुरूप आचरण का पालन है अनिवार्य
आरा/ 19 अप्रैल- संक्रमण के इस नयी लहर ने जहां जिले में संक्रमितों की संख्या को फिर से बढ़ा दिया है, वहीं पिछली बार की तरह फिर से लॉक डाउन लग जाने की आशंका और दूसरी असुविधाओं के बारे में सोच कर लोगों की दिनचर्या भी काफी प्रभावित हुयी है। परिस्थिति को देखते हुये टीकाकरण के साथ कोरोना सुरक्षा मानकों के पालन की अनिवार्यता और बढ़ गयी है।
एक्टिव मामले बढ़ कर 692:
जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. संजय कुमार सिन्हा ने बताया रविवार 18 अप्रैल देर शाम तक दर्ज किए आंकड़ों के अनुसार भोजपुर जिला में कुल 692 कोरोना के सक्रिय मामले हैं। ऐसा इसलिए भी हो रहा है क्योंकि कही न कहीं हमसे कोविड- 19 के नियमों का कठोरता से पालन करने में कोताही हो रही है। यदि ऐसा ही चलता रहा तो स्थिति काफी चिंताजनक हो जाएगी

टीका लेने में एक की लापरवाही, सभी पर पड़ेगी भारी:
कोविड 19 के टीके भी संक्रमण को बढ्ने से रोकने के लिए जरूरी हैं क्योंकि यह शरीर में इस वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी का निर्माण कर प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने और संतुलित रखने में सहायक है। जिससे संक्रमित होने की आशंका कम हो जाती है।हालांकि संक्रमण चक्र को तोड़ने के लिए सभी का वैक्सीनटेड होना जरूरी है किन्तु उन आयु वर्ग को जैसी की वुजुर्ग को जरूर से टीका लेना चाहिए जिनमें रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है ।
जिले में वैक्सीन की कोई कमी नहीं, विभाग से लगातार हो रही है आपूर्ति
डा. सिन्हा ने आगे बताया की जिले में वैक्सीन की अनुपलवध्ता एक अफवाह मात्र है।राज्य सरकार द्वारा जिले को समय समय पर आवश्यकतानुसार टीके के डोज़ की आपूर्ति की जा रही है। पिछले दिनों कुछ असुविधा जरूर हुई थी किन्तु अब सब ठीक है। जिले को पिछले शुक्रवार – 6000, शनिवार- 6900 और रविवार को 5500 कोविशील्ड के डोज़ उपलव्ध कराये गए हैं। जिन्हें जरूरत अनुसार सभी 14 प्रखंड प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और दूसरे टीकाकरण केन्द्रों में वितरित कर दिए गए हैं। प्रधान सचिव कार्यालय से यह सुनिश्चित भी किया गया है कि वैक्सीन कि आपूर्ति में कोई रुकावट नहीं आएगी। ताकि पूरे जिले में टीकाकरण निर्वाध गति से चलता रहे।
जागरूक होने और सुरक्षा नियमों के पालन की अपील :
डॉ. सिन्हा ने लोगो को कोविड नियमों के सख्ती से पालन करने की अपील करते हुये कहा कोरोना संक्रमण के विस्तार को रोकने के लिए लोगों को जागरूक होकर कोविड- 19 के नियमों का कड़ाई से पालन करते हुए संक्रमण की चेन को तोड़नी होगी। यदि इस संक्रामक वायरस से जीतना है तो आवश्यक है कि यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक न जाने पाये, और इसके लिए बहुत जरूरी है कि लोग कोविड- 19 के नियमों का कठोरता से पालन करें। मास्क के उपयोग को अपनी पहली प्राथमिकता में शामिल करें, दो गज की शारीरिक दूरी का संयम के साथ बनाये रखें, हाथों को बार-बार साबुन पानी या अल्कोहलयुक्त सैनिटाइजर से विषाणु मुक्त करते रहें। इस बार 5 वर्ष से ऊपर के सभी आयुवर्ग के लोगों में संक्रमण के मामले मिल रहें हैं, जो काफी चिंताजनक है। इसलिए आवश्यक है की जागरूक होकर सभी आयुवर्ग के लोगों को कोविड के नियमों का पालन करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *