जिला पदाधिकारी भोजपुर श्री रौशन कुशवाहा द्वारा संभावित बाढ़ की आवश्यक तैयारियों के संबंध में समीक्षा बैठक की गई।

गंगा के जलस्तर में हो रही वृद्धि के निमित्त सभी पदाधिकारियों को अलर्ट मोड में रहने का निर्देश दिया गया ।

बाढ़ पर कौन-कौन से ग्राम एवं पंचायत प्रभावित होते हैं वहां का स्थानीय भ्रमण कर शरण स्थल , नाव की व्यवस्था, कम्युनिटी किचन, राहत शिविर स्थल, दवा की उपलब्धता आदि के संबंध में संबंधित से समन्वय स्थापित कर सभी आवश्यक तैयारी पूरा करने का निर्देश अंचलाधिकारी एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया गया।

सीएफएमएस/पीएफएमएस के माध्यम से सम्पूर्ति पोर्टल पर जितने लाभुकों का relief हेतु एंट्री हुआ है उसे लॉक कराने का निर्देश अंचलाधिकारी बरहरा, शाहपुर एवं आरा को दिया गया।

वरीय पदाधिकारी जिला परिवहन पदाधिकारी भोजपुर ,अनुमंडल पदाधिकारी सदर आरा, अपर समाहर्ता भोजपुर, एवं उप विकास आयुक्त भोजपुर को मॉनिटरिंग हेतु आवंटित प्रखंड में जाकर संभावित बाढ़ के आवश्यक तैयारियों की समीक्षा करने का निर्देश दिया गया।

बाढ़ आने के बाद भी संबंधित प्रखंड से संपर्क बना रहे इसके निमित्त बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के पथों को भी चिन्हित करने का निर्देश दिया गया जिसकी मरम्मत की आवश्यकता है।

कार्यपालक अभियंता पी एच ई डी को निर्देश दिया गया कि अपने कनीय अभियंता को संबंधित अंचलाधिकारी एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी से समन्वय स्थापित कर संभावित बाढ़ के मद्देनजर तैयारियों के संबंध में अवगत कराने हेतु निर्देशित करेंगे ।बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में चापाकल एवं शौचालय की जांच कराकर तैयारी हालत में रहेंगे।

प्रभारी पदाधिकारी आपदा को निर्देश दिया गया कि सभी प्रखंड चकबनदी पदाधिकारी को संभावित बाढ़ के कार्य करने हेतु जिम्मेदारी निर्धारित करेंगे।

चिन्हित बाढ़ शरण स्थल तथा विद्यालयों की साफ-सफाई एवं आवश्यक तैयारी करने का निर्देश जिला शिक्षा पदाधिकारी भोजपुर को दिया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *